वक्त

747

वक्त वक्त की बात बताऊँ ,वक्त बड़ा बलवान सुनो,
इसां क्या इस वक्त के आगे, झुक गये खुद भगवान सुनो।
एक वक्त में रावण ने,सीता का अपमान किया,
एक वक्त में रावण ने ,विभिषण को दुत्कार दिया,
लंका में आग लगाये श्री बजरंगी हनुमान सुनों।
इसां……..

एक वक्त में देवकी ने ,चंचल कान्हा को जन्म दिया,
एक वक्त में यशोदा ने,मातृत्व रूपी आनन्द लिया,
वक्त का खेल निराला है,ये वक्त बड़ा बलवान सुनो।
इसां……….

एक वक्त में राधा ने श्रीकृष्ण प्रेम का पान किया,
एक वक्त में मीरा ने,श्रीकृष्ण का गुणगान किया,
एक ने रसगान किया,दूजे ने बिष का पान पिया।
इसां…………

एक वक्त में जीवन का बिगड़ता बनता संसार सुनो,
आधी नइया इस पार रही ,आधी नइया उस पार सुनो
ये वक्त बड़ा निर्मोही है,दुनियां के हर इन्सान सुनो।
इसां…………

  • अनुराधा श्रीवास्तव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here