जंगल मे तितली

732

जंगल में
तितली का आना-
कभी देखा है ?
पतझड़ से,
न उबरे वृक्ष पर-
कोयल का आना –
सुरों में-
उसका कूकना-
कभी सुना है ?
पर ,
होता है-
ऐसा। भी होता है।
कठिन डगर पर ,
अविराम सफ़र पर ।

  • विभा पाठक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here